दीपावली पूजा के ये काम सूर्य ग्रहण के बाद ही करे 

Written By

Avnish Singh

दीपावली के आगले ही सुबह सूर्य ग्रहण सूतक लग जायेगे |इसलिए त्यौहार का प्रभाव दीपावली पूजा पर ही पड़ेगा |

educationspot.in

25 अक्टूबर को सुबह 4 बजे सूर्य ग्रहण लग जायेगा | इसलिए मंदिर पूजा से जुदा कोई भी कम नही हो पायेगा ,25 अक्टूबर का दिन खाली रहेगा |

educationspot.in

25 अक्टूबर के दिन पितरो का दान किया जायेगा |ग्रहण के बाद ही स्नान और दान फलदायी होगा | 25 अक्टूबर को भओम्वती आमवस्या है |

educationspot.in

इस बार दीवाली के दिन शाम को आमवस्या तिथि शुरु हो रही है , इसलिए ग्रहण वाले दिन ग्रहण ख़तम होने के बाद ही स्नान और दान किया जायेगा|

educationspot.in

दीपावली की आगले सुबह ही ग्रहण कल शुरु हो रहा है जिसमे मंदिरों के पत बंद रहते है ,इसलिए माँ लक्ष्मी की पूजा कली चोकी भी ग्रहण कल खत्म होने बाद ही उड़ाई जाएगी |

educationspot.in

25 अक्टूबर शाम 4 बजे से सूर्य ग्रहण शुरु होगा जो शाम 6:25 को खत्म होगा सूर्य ग्रहण देश के उत्तरी और पश्चिम हिस्सों में आसानी से दिखाई देगा |

educationspot.in

श्राद्ध की आमवस्या 25 अक्टूबर को ही मनाई जाएगी , जो अमावस्या मंगलवार को पड़ती है उसे भओम्वती अमावस्या कहते है |

educationspot.in

इस दिन गंगा ,गोदावरी ,सरयू नदी सहित अन्य पवित्र नदियों में स्नान करने के बाद सरोवर या नदी के तट पे पितरो का श्राद्ध तर्पड दिन के मध्यकाल में करे |

educationspot.in

अमावश्य के दिन किया जाने वाला गृह सम्बन्धीत समस्त कार्य 25 अक्टूबर दिन मंगल को ही दिन में सूर्योदय से लेकर कर के शाम 4:35 तक कर जिया जायेगा |

educationspot.in